I am not able to understand the ranjak kriya clearly. 

rn

 

रंजक क्रिया वह क्रिया होती है, जो मुख्य क्रिया के साथ लग अपना अर्थ खो देती है और मुख्य क्रिया में नवीनता लाती है। इसे सहायक क्रिया भी कहते हैं। जैसे-

वह जा चुका है।

इस वाक्य में जा मुख्य क्रिया है चुका रंजक क्रिया (सहायक) है।

  • -1
What are you looking for?