P ls answer      both  the  questions highlighted in yellow
 

प्रिय छात्र आपका उत्तर इस प्रकार है।

मही + ईश = महीश - यह सही है। क्योंकि दीर्घ संधि के अंतर्गत इसमें ई+ई=ई का प्रयोग किया जाता है।

ह्रस्व या दीर्घ अ, इ, उ अथवा आ, ई, ऊ के बाद यदि ह्रस्व या दीर्घ अ, इ, उ तथा आ, ई, ऊ आ जाए तो दोनों मिलकर दीर्घ आ, ई और ऊ हो जाते हैं;
जैसे -
 
 
इ और ई की संधि :-
इ + इ = ई
रवि+इन्द्र=रवीन्द्र
मुनि+इन्द्र=मुनीन्द्र
इ + ई = ई
गिरि+ईश=गिरीश
हरि+ईश=हरीश
मुनि+ईश=मुनीश
ई + इ = ई
मही+इंद्र=महींद्र
नारी+इंद्र=नारींद्र
नगी+इंद्र=नगींद्र
ई + ई = ई
मनी+ईष=मनीष
मही+ईश=महीश
नदी+ईश=नदीश



 

  • 0
Please find this answer

  • 1
What are you looking for?