Vakya ka nirdurshak badalde

मित्र

 नवाब साहब कुछ देर गाड़ी की खिड़की के बाहर देखते रहे और स्थिति पर गौर करते रहे।
 बिना पटाखोंं के दीपावली मनाएं - संज्ञा उपवाक्य
कल नहीं आनेेेे वाले छात्र खड़ेे हो जाएं।

  • 1
What are you looking for?