I want an essay on 80- 100 on adhunik sukh suvidayin ka Manav jeevan par prabhav I also want it's advantages and disadvantages

मित्र,आज का युग विज्ञान का युग है | जीवन के हर क्षेत्र में विज्ञान और उस पर आधारित तकनीक का बोलबाला है | हम तकनीक पर इतने ज्यादा निर्भर हैं कि अब उसके बिना जीवन की कल्पना भी संभव नहीं रही | तकनीक के इस प्रयोग ने हमारे जीवन को काफी सुविधाजनक बना दिया है | चाहे घर का काम हो, यातायात के साधन हो या औद्योगिक उत्पादन हो, सब कुछ आधुनिक तकनीक के सहारे पहले से बेहतर और तेज गति से हो रहा है | जीवन को सुखी और सुरक्षित बनाने के लिए एक से बढ़कर एक आविष्कार हो रहे हैं | इसका मानव समाज को बहुत लाभ हो रहा है | इस बात में कोई शक नहीं है कि तकनीक हमारे जीवन का अआश्यक अंग बन गई है और इससे हमें बहुत लाभ भी हुआ है | किंतु आधुनिक तकनीक की इस चकाचौंध में मानवीय संवेदनाएँ जिस तरह मजाक बन कर रह गई है, उस तरफ बहुत कम लोगों का ध्यान गया है | लोगों के पास अब एक दूसरे के लिए समय ही नहीं रहा | लोग या तो काम में व्यस्त रहते हैं या आधुनिक उपकरणों में लगे रहते हैं | मोबाइल-कंप्यूटर-इंटरनेट इनसे लोगों को फुर्सत ही नहीं मिलती | पहले बच्चें घर से निकलने और खेलने का बहाना खोजते थे | किसी तरह मौका मिला नहीं कि मैदान की तरफ भागे | छुट्टियों के दिन मैदानों पर पैर रखने को जगह नहीं मिला करती थी | बच्चों का हुजूम नजर आता था | मैदान में भी बच्चें अपने खेलने की जगह बाँट लेते थे कि किसकी टीम कहाँ खेलेगी | यदि कोई और उस जगह पर खेलने आ जाए तो घमासान मच जाता था | साथ में खेलने से बच्चों में मित्रता कि भावना बढ़ती | आपस में भाईचारा बढ़ता | आज हालत बिलकुल उलटा है | बच्चों के लिए खेल का मतलब हो गया है कंप्यूटर गेमिंग | पूरा दिन निकल जाता है कंप्यूटर पर खेलते हुए | कई दिनों तक सूरज की रौशनी भी नहीं देखते | जब आपस में मिलेंगे ही नहीं तो मित्रता कैसे बढ़ेगी, भाईचारा कैसे बढेगा | यदि किसी वजह से साथ में बैठे तो भी मोबाइल में लगे रहते हैं | एक दूसरे को कुछ कहना हो तो बोलने कि बजाय मेसेज भेजते हैं | जवाब भी मेसेज से मिलता है | घरों में पहले लोग साथ में खाना खाते थे | रात को पूरा परिवार साथ में बैठकर टीवी देखता, एक दूसरे से बातें करते |

  • 0
What are you looking for?